नग्न तस्वीरें वायरल कर देंगे, मिल रही थी धमकियां, पिता की चतुराई से पकड़े गए आरोपी

आजकल सोशल मीडिया के माध्यम से कई युवक और युवतियां हनी ट्रैप का शिकार हो जाते हैं। नौजवान युवकों और युवतियों को सोशल मीडिया के माध्यम से पहले फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजना और बाद में उनका व्हाट्सएप नंबर लेकर उनकी निजी जीवन के बारे में जानना। फिर उनका भरोसा जीतना और अश्लील तस्वीरें मांग कर उन्हें ब्लैकमेल करने जैसे मामले आए दिन खबरों में सुनाई देते हैं।

ऐसा ही एक मामला नागपुर के सक्करदारा इलाके से सामने आया है। एक युवक को तन्वई नाम की एक युवती ने इंस्टाग्राम पर फॉलो रिक्वेस्ट सेंड की। युवक ने लड़की की रिक्वेस्ट स्वीकार कर ली। बाद में धीरे-धीरे दोनों के बीच चैटिंग होने लगी। धीरे धीरे दोनों के बीच की चैटिंग अश्लीलता वाली बातों पर आ पहुंची। युवक को अपने चंगुल में फंसकर युवती ने उससे अश्लील तस्वीरें मांगी। युवक ने भी अपनी निजी तस्वीरें उस युवती को भेज दी।

कुछ दिनों बाद युवक को अंजान नंबर से फोन कॉल आने लगा। फोन कॉल पर युवक को धमकियां मिल रही थी कि उसकी अश्लील तस्वीरें उनके पास है। ब्लैक मेलिंग करके उस युवक से पहले डेढ़ हजार रुपए मांगे गए बाद में 5000 और फिर 6000 मांगे गए। हमेशा कि इस ब्लैक मेलिंग से युवक काफी तंग आ चुका था और आखिरकार उसने यह पूरा मामला अपने पिता को बता दिया।

1 दिन युवक को फिर से पैसे मांगने के लिए कॉल आया तो उसने पैसे देने से साफ इनकार कर दिया। उसके बाद उस युवती का साथी रौनक प्रभु वैद्य नाम का एक आरोपी सीधे उस युवक के घर पहुंच गया और उसके घर वालों को वही तस्वीरें दिखा करके कहने लगा कि यदि वे उसे 50 हजार नहीं देंगे तो उनके बेटे की तस्वीरें वायरल करके उनकी बदनामी कर दी जाएगी। पहले तो युवक के पिता ने पैसे देने से मना कर दिया

परंतु बाद में उन्होंने उस ब्लैकमेलर को पकड़ने की युक्ति बनाई और उसे पैसे लेने के लिए सक्करदारा स्थित एक मंगल कार्यालय में बुलाया। इसी दौरान पीड़ित युवक के पिता ने स्थानीय पुलिस को भी इस घटना की खबर दे दी थी। जैसे ही वह ब्लैकमेलर फिरौती के पैसे लेने के लिए आया पुलिस ने उसे रंगे हाथों धर दबोचा। फिलहाल पुलिस ने उस युवती और उसके साथीदार को गिरफ्तार कर लिया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *